ब्रजेश ठाकुर की राजदार मधु कर सकती है ‘बड़ा खुलासा’: सीबीआई

मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन शोषण मामले के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर की करीबी सहयोगी मधु सहित दो लोगों को सीबीआई ने गिरफ्तार कर लिया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। मधु की गिरफ्तारी के तुरंत बाद सीबीआई ने डॉ अश्विनी कुमार को गिरफ्तार किया है, जो लड़कियों को नशे का इंजेक्शन दिया करता था। सीबीआई के समक्ष मंगलवार को पेश हुई मधु ने कहा कि आश्रयगृह में जो कुछ हुआ, उसकी उसे जानकारी नहीं थी।

0
Brajesh Thakur's Rajdar Madhu Can make 'big disclosure'
137 Views

मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन शोषण मामले के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर की करीबी सहयोगी मधु सहित दो लोगों को सीबीआई ने गिरफ्तार कर लिया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। मधु की गिरफ्तारी के तुरंत बाद सीबीआई ने डॉ अश्विनी कुमार को गिरफ्तार किया है, जो लड़कियों को नशे का इंजेक्शन दिया करता था। सीबीआई के समक्ष मंगलवार को पेश हुई मधु ने कहा कि आश्रयगृह में जो कुछ हुआ, उसकी उसे जानकारी नहीं थी।

मधु ने कहा कि न तो वह इस मामले में आरोपी है और न ही उसके खिलाफ वारंट जारी किया था। लेकिन उसने सीबीआई अधिकारियों से मिलने का फैसला इसलिए लिया क्योंकि जांचकर्ता कई बार उसके घर आए जिससे उसके परिवार वालों को असुविधा हुई। मधु ने संवाददाताओं से कहा, मुझे डरने की जरूरत नहीं है, क्योंकि मैं तो उस आश्रय गृह से जुड़ी भी नहीं थी जो जांच के दायरे में है। मैं ठाकुर के लिए काम जरूर करती थी, लेकिन वहां क्या हुआ, मुझे इसकी कोई जानकारी नहीं है।

Related Articles:

सीबीआई कार्यालय के भीतर जाने से पहले उसने कहा, ‘मैं सीबीआई को पूरा सहयोग देने के लिए तैयार हूं, हालांकि मुझे किसी राज की जानकारी नहीं है। मैं यह नहीं कह सकती कि ठाकुर किसी अवैध गतिविधि में शामिल था या नहीं। भले ही मैं उसके कुछ समाचारपत्रों संबंधी मामले देखती थी, लेकिन मैं उन खबरों से इनकार करती हूं कि मैं मंत्रियों एवं अन्य महत्त्वपूर्ण व्यक्तियों के साथ संपर्क कर ठाकुर के कारोबार को बढ़ावा देती थी।

नेपाल में छिपे होने की खबर पर हंसते हुए उसने कहा कि वह बिहार में ही थी और कहीं नहीं छिपी थी। मधु ने कहा, ‘मेरे पास छिपने का कोई कारण नहीं था। मैंने सीबीआई के समक्ष अब पेश होने का फैसला इसलिए लिया क्योंकि हाल ही में जांचकर्ता कई बार मेरे घर आए और इससे मेरे परिवार के सदस्यों को असुविधा हुई थी।

मधु को पहले शाइस्ता के नाम से जाना जाता था। वह चतुर्भुज स्थान इलाके की निवासी थी और कुछ साल पहले ठाकुर के साथ संपर्क में आई थी जब वहां रेड लाइट इलाके से छुड़ाई गई लड़कियों के पुनर्वास के लिए एक अभियान चलाया गया था। मीडिया की खबरों में दावा किया गया था कि वह ठाकुर के स्वामित्व वाले सभी एनजीओ के कामों को देखती थी। इसमें ‘सेवा संकल्प एवं विकास समिति’ भी शामिल था जो आश्रय गृह चलाता था और जहां रहने वाली लड़कियों का यौन शोषण हुआ।

ब्रजेश की राजदार है मधु

 

मधु को इस केस के मास्टर माइंड और मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर का राजदार बताया जाता है। ब्रजेश ठाकुर ने अपने शहर के समुदाय आधारित संगठन वामा शक्ति वाहिनी की कमान मधु को दे रखी थी। मधु के माध्यम से ब्रजेश ने कई एनजीओ खोला और समाज कल्याण विभाग में अपनी पैठ बनाई। बाद में दोनों ने मिलकर बालिका सुधार गृह खोला और कई तरह के गैरकानूनी कामों को अंजाम दिया। मधु का गॉड फादर ब्रजेश ठाकुर फिलहाल पंजाब के पटियाला जेल में बंद है।

इससे पहले मंगलवार को ही बिहार की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा ने भी बेगूसराय के मंझौल अनुमंडल न्यायालय में समर्पण किया है। जानकारी के मुताबिक मंजू ने पहचान छिपाने के लिए बुर्के का सहारा लिया और अपनी पोशाक बदलकर समर्पण किया। इससे पहले उनकी गिरफ्तारी को लेकर पुलिस लगातार दबिश दे रही थी। मंजू वर्मा आर्म्स एक्ट के मामले में फरार चल रही थीं।

Summary
Brajesh Thakur's Rajdar Madhu Can make 'big disclosure'
Article Name
Brajesh Thakur's Rajdar Madhu Can make 'big disclosure'
Description
मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन शोषण मामले के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर की करीबी सहयोगी मधु सहित दो लोगों को सीबीआई ने गिरफ्तार कर लिया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। मधु की गिरफ्तारी के तुरंत बाद सीबीआई ने डॉ अश्विनी कुमार को गिरफ्तार किया है, जो लड़कियों को नशे का इंजेक्शन दिया करता था। सीबीआई के समक्ष मंगलवार को पेश हुई मधु ने कहा कि आश्रयगृह में जो कुछ हुआ, उसकी उसे जानकारी नहीं थी।
Author
Publisher Name
THE POLICY TIMES
Publisher Logo