मुझे मीडिया के दबाव और परिस्थितियों के कारण गिरफ्तार किया गया था: बिशप फ्रैंको मुलक्कल

इंडियन एक्सप्रेस रिपोर्ट के मुताबिक बिशप ने कहा की मीडिया के दबाव और परिस्थितियों के कारण उन्हें गिरफ्तार किया गया था

0
I was arrested due to media pressure and circumstances: Bishop Franco Mulakkal
53 Views

केरल में कथित रूप से दो साल तक एक नन के साथ बलात्कार और यौन उत्पीड़न के आरोप में जेल से रिहा होने के बाद जलंधर बिशप फ्रैंको मुलक्कल ने कहा है कि यह जमानत किसी ‘चमत्कार’ से कम नहीं है क्यूंकि ऐसे मामलों में जमानत मिलना आसान नहीं होता| इंडियन एक्सप्रेस रिपोर्ट के मुताबिक बिशप ने कहा की मीडिया के दबाव और परिस्थितियों के कारण उन्हें गिरफ्तार किया गया था|

जेल में बंद रहने के दौरान बिशप फ्रैंको ने एक पत्र लिखा था जिसमें उन्होंने कई बातें साझा की| इस पत्र में उन्होंने जेल के पहले दिन से लेकर अंतिम दिन का ज़िक्र किया है| बिशप मुलक्कल ने 1 अक्टूबर को लिखे इस पत्र में उपरोक्त दावे किए हैं। उन्होंने लिखा कि वे ज्यादातर समय प्रार्थनाओं, भगवान के वचन, ध्यान और व्यक्तिगत प्रतिबिंब को पढ़ने में बिताया करते थे| उन्होंने अपने पत्र में कहा कि पुलिस टीम के पूछताछ के दो दिन बाद यह स्पष्ट हो गया कि पुलिस ने मुझे मीडिया के दबाव और नन द्वारा किए गए प्रदर्शन के कारण गिरफ्तार किया था|

पत्र में बिशप फ्रैंको मुलक्कल ने कहा कि इस प्रकार के मामलों में जमानत मिलना आसान नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि जब वो जेल से बाहर आए तब हज़ारों लोग फूलों के साथ उनका स्वागत किया| उन्होंने कहा कि बिशप, पुजारी, नेताओं (राजनीतिक और उपशास्त्रीय) ने उन्हें चर्च में प्रार्थना के लिए प्रोत्साहित किया| उन्होंने सभी बिशप को धन्यवाद किया जो उनके पक्ष में मजबूती से खड़े थे|

Related Articles:

जमानत में कुछ शर्ते

केरल दुष्कर्म मामले में हाईकोर्ट ने जालंधर के पूर्व बिशप और आरोपी फ्रैंको मुलक्कल को जमानत तो मिल गयी है लेकिन जमानत पर कई शर्ते भी लागू की गई हैं। जमानत देने के दौरान हाईकोर्ट ने दुष्कलर्म के आरोपी फ्रैंको मुलक्कूल के केरल राज्य में प्रवेश पर रोक लगा दी है। बता दें कि इससे पहले हाईकोर्ट ने फ्रैंको की जमानत याचिका को खारिज कर दिया था| जिसके बाद आरोपी बिशप ने एक बार फिर जमानत के लिए केरल हाईकोर्ट का सहारा लिया था। उन्होंने अपनी नई याचिका में कहा था कि पुरानी याचिका के वक्त अभियोजन ने जो आपत्तियां की थी, वह अब नहीं हैं।

जमानत देते वक्त कोर्ट ने कहा कि फिलहाल फ्रैंको की गिरफ्तारी मुद्दा नहीं है| मामले में हो रही जांच पर संतुष्टि जताते हुए कोर्ट ने कहा कि चूंकि यह एक पुराना मामला है इसलिए जांच में समय लगेगा| साथ ही कहा कि आरोपी को जेल में डालने से बड़ा मुद्दा उसे दी जाने वाली अंतिम सजा है|

क्या है पूरा मामला

केरल की एक नन ने बिशप फ्रैंको पर दुष्कर्म के आरोप लगाया था। नन के मुताबिक मुलक्कल ने बीते दो सालों में उसके साथ 13 बार दुष्कर्म किया था। नन का यह भी दावा है कि उसने इस मामले में पहले चर्च के अधिकारियों से शिकायत की थी लेकिन उन्होंने इस मामले पर कोई कार्रवाई नहीं की और इसके बाद उसने फिर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी।

Summary
मुझे मीडिया के दबाव और परिस्थितियों के कारण गिरफ्तार किया गया था: बिशप फ्रैंको मुलक्कल
Article Name
मुझे मीडिया के दबाव और परिस्थितियों के कारण गिरफ्तार किया गया था: बिशप फ्रैंको मुलक्कल
Description
इंडियन एक्सप्रेस रिपोर्ट के मुताबिक बिशप ने कहा की मीडिया के दबाव और परिस्थितियों के कारण उन्हें गिरफ्तार किया गया था
Author
Publisher Name
The Policy Times
Publisher Logo