भारत में लगातार बढ़ रहे ड्राई आईज़ के मरीज़, महिलाओं की तुलना में पुरुष मरीज़ अधिक

देश में पहली बार बड़े पैमाने पर आँखों से जुडी बीमारियों पर एक अध्ययन किया गया जिसमें यह बात निकल कर सामने आई कि भारत में शुष्क आखों की समस्याएं लोगों में लगातार बढ़ रही है|

0
Dry Eyes

देश में पहली बार बड़े पैमाने पर आँखों से जुडी बीमारियों पर एक अध्ययन किया गया जिसमें यह बात निकल कर सामने आई कि भारत में शुष्क आखों की समस्याएं लोगों में लगातार बढ़ रही है| अध्ययन के अंतर्गत 14.5 लाख रोगियों को शामिल किया गया था जिसमें यह बात सामने निकल कर आई कि आँखों में ड्राईनेस के लगभग बारह हज़ार पांच सौ से अधिक मामले शहरी क्षेत्र से प्राप्त हुए और आठ हज़ार सात सौ ग्रामीण क्षेत्रों से एकत्रित किए गए|

अध्ययन के मुताबिक, लोगों को यह समस्याएँ पुरानी प्राकृतिक बीमारी और उम्र बढ़ना बताया गया| साथ ही अध्ययन यह बात भी निकल कर सामने आई कि साल 2030 तक शुष्क नेत्र रोग की समस्या 40 प्रतिशत तक बढ़ सकती है| चूंकि रोग उम्र के साथ बढ़ते है जिसमें कॉर्नियल क्षति अपरिवर्तनीय हो जाती है तब देखने की क्षमता घटती है और अंधेपन की संभावना भी होती है इसलिए प्रारंभिक निदान और उपचार महत्वपूर्ण है|

महिलाओं की तुलना में पुरुष मरीज़ अधिक

यह अध्ययन 2010 और 2018 के बीच तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, उड़ीसा और कर्नाटक में 200 स्थानों पर किया गया था| इसके परिणाम ऑकुलर सर्फेसमें प्रकाशित किए गए थे| अध्ययन में पाया गया कि शुष्क नेत्र रोग की शुरुआत महिलाओं की तुलना में पुरुषों में जल्दी होती है| पुरुषों में 50 और 60 के उम्र की तुलना में महिलाओं में बीमारी की शुरुआत 20 और 30 की उम्र में होती है| 50 और 60 के उम्र में महिलाओं में हार्मोनल असंतुलन एक संभावित कारण हो सकता है| एल.वी. प्रसाद आई इंस्टीट्यूट, हैदराबाद से डॉ. सयान बसु ने कहा है कि यह पहला अध्ययन है जिसने बीमारी के लिए लिंग आधारित जोखिम को दिखाया है|

कारण है कम आंसू का बनना

डॉ. सयान बसु के अनुसार आँखों में बढती ड्राईनेस का कारण बढती आयु, गलत लाइफस्टाइल महत्वपूर्ण कारक है| इसके साथ ही शुष्क आंख की बीमारी का कारण अपर्याप्त आंसू उत्पादन भी है जिसकी वजह से आँखों के ड्राईनेस और जलन बढती है| उन्होंने बताया कि 20.5% से अधिक सूखी आंख की बीमारी अपर्याप्त आंसू का होना होता है| डॉ. बासु ने कहा कि जब आँखों में अपर्याप्त आंसू नहीं बनते है तब आँखों में जलन जैसी समस्या बनती है|

Summary
Article Name
Dry AI's patients in India, male patients more than women
Description
देश में पहली बार बड़े पैमाने पर आँखों से जुडी बीमारियों पर एक अध्ययन किया गया जिसमें यह बात निकल कर सामने आई कि भारत में शुष्क आखों की समस्याएं लोगों में लगातार बढ़ रही है|
Author
Publisher Name
The Policy Times