हथियारों की खरीद के मामले में भारत दूसरे स्थान पर

हथियारों की वैश्विक स्तर पर खरीद के मामले में भारत को पीछे छोड़कर अब सऊदी अरब शीर्ष पर काबिज हो गया है। ताजा जारी रिपोटर्स में यह कहा गया है कि एक दशक से युद्धक समाग्री खरीद के मामले में भारत ने पहला स्थान गवां दिया है।

0
India is second in terms of arms procurement

हथियारों की वैश्विक स्तर पर खरीद के मामले में भारत को पीछे छोड़कर अब सऊदी अरब शीर्ष पर काबिज हो गया है। ताजा जारी रिपोटर्स में यह कहा गया है कि एक दशक से युद्धक समाग्री खरीद के मामले में भारत ने पहला स्थान गवां दिया है।

हथियारों के खरीद-फरोख्त पर नजर रखने वाली स्टॉकहोम स्थित एक थिंक टैंक की ताजा जारी रिपोर्ट्स में यह कहा गया है कि साल 2014 से 2018 के बीच इस मामले में सऊदी अरब पहले स्थान पर पहुंच गया है।

Related Article:India’s Civilisational Identity Is in Severe Danger

स्वीडन स्थित थिंक टैंक स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट (SIPRI) की वार्षिक रिपोर्ट में ‘ट्रेंड्स इन इंटरनेशनल आर्म्स ट्रांसफर्स-2018’ शीर्षक के अंतर्गत कहा गया कि 2014-18 के दौरान भारत प्रमुख हथियारों का दुनिया में दूसरा सबसे बड़ा आयतक था| भारत का आयात कुल वैश्विक आयात के 9.8% था|

यह मूल्यांकन पांच साल कि अवधि (2014-2018) के लिए किया गया| ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार 13% आयात के साथ पिछले साल (2013-2017 की अवधि के लिए) भारत हथियारों का सबसे बड़ा आयतक था|

SIPRI ने हथियारों की डिलेवरी में देरी को भारत के पिछड़ने का कारण माना है| रिपोर्ट में कहा गया विदेशी आपूर्तिकर्ताओं द्वारा हथियार की डिलेवरी में देरी के कारण 2009-13 और 2014-18 (पांच साल के दो ब्लॉक) में आयात में 24% की कमी आई| 2001 में रूस से लड़ाकू विमान और 2008 में फ्रांस से सबमरीन का ऑर्डर दिया गया था|

Related Article:7 Indian states and 1,789 Cities are Open Defecation Free: Gov’t

2011-2015 के बीच पांच साल की अवधि के दौरान अमेरिका, रूस, फ्रांस, जर्मनी और चीन हथियारों के सबसे बड़े निर्यातक थे| अमेरिका और रूस अब तक के सबसे बड़े निर्यातकों में से हैं| हथियारों की बिक्री में अमेरिका का 36% और रूस का 21% हिस्सा है|

सऊदी अरब दुनिया का सबसे बड़ा हथियार आर्म इम्पोर्टर देश है। अमेरिका से हथियार लेने में सऊदी सबसे आगे हैं साथ ही कुल वैश्विक आयात में इसका हिस्सेदारी करीब 12 फीसदी की है। हथियारों को खरीदने के मामले में सऊदी अरब के बाद भारत का दूसरा स्थान है। कुल ग्लोबल इम्पोर्ट में तकरीबन 9.5 फीसदी हिस्सा भारत का है।

Summary
Article Name
India is second in terms of arms procurement
Description
हथियारों की वैश्विक स्तर पर खरीद के मामले में भारत को पीछे छोड़कर अब सऊदी अरब शीर्ष पर काबिज हो गया है। ताजा जारी रिपोटर्स में यह कहा गया है कि एक दशक से युद्धक समाग्री खरीद के मामले में भारत ने पहला स्थान गवां दिया है।
Author
Publisher Name
The Policy Times