मिशन शक्ति: कांग्रेस ने PM मोदी पर साधा निशाना, डीआरडीओ, इसरो को दी मुबारक़बाद

मिशन शक्ति भारत के अंतरिक्ष इतिहास की सबसे बड़ी उपलब्धि है। डीआरडीओ ने अंतरिक्ष में सैटलाइट को मार गिराया और अपनी ऐंटी सैटेलाइट क्षमता का प्रदर्शन किया। इसके साथ ही भारत दुनिया का चौथा देश बन गया है जिसके पास अंतरिक्ष में भी मार करने की क्षमता है। अब तक अमेरिका, रूस और चीन के पास यह क्षमता थी।

0
Mission Shakti: Opposition lauds DRDO, ISRO, hits out at PM Modi

मिशन शक्ति भारत के अंतरिक्ष इतिहास की सबसे बड़ी उपलब्धि है। डीआरडीओ ने अंतरिक्ष में सैटलाइट को मार गिराया और अपनी ऐंटी सैटेलाइट क्षमता का प्रदर्शन किया। इसके साथ ही भारत दुनिया का चौथा देश बन गया है जिसके पास अंतरिक्ष में भी मार करने की क्षमता है। अब तक अमेरिका, रूस और चीन के पास यह क्षमता थी।

पीएम मोदी ने बुधवार को इस तकनीक के कामयाब परिक्षण का एलान किय। कामयाब परिक्षण की कामयाबी भले ही आज सामने आ रही है हो लेकिन भारत को इस क्षमता को हासिल करने के लिए काफी लम्बे समय से प्रयास कर रहा था। तल्कालीन डीआरडीओ चेइफ ने 2012 में एक अंग्रेजी प्रकाशन को दिए इंटरव्यू में इस बारे में बताया था।

Related Article:WhatsApp will not comply with the government over misinformation

भारत ने अंतरिक्ष की दुनिया में एक और कीर्तिमान स्थापित कर लिया है। पीएम मोदी ने आज इसकी जानकारी देश को दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को संबोधित करते हुए कहा कि, भारत ने अंतरिक्ष के क्षेत्र में बड़ी उपलब्धि हासिल की है। अब तक दुनिया के 3 देश अमेरिका, रूस और चीन को अंतरिक्ष में यह उपलब्धि हासिल थी। एन्टी-सैटेलाइट मिसाइल का इस्तेमाल करने वाला भारत चौथा देश बन गया है, जो हर भारतीय के लिए गर्व का पल है। पीएम मोदी के संबोधन के बाद इसपर विपक्षी दलों की तरफ से प्रतिक्रियाएं भी आने लगी हैं। कांग्रेस के अलावा समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पीएम मोदी के संबोधन पर प्रतिक्रिया दी है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने कहा की डीआरडीओ ने अच्छा काम किया है। आपके काम पर बेहद गर्व है। इसके साथ ही राहुल ने पीएम मोदी पर वार  कहा की मई पीएम को विश्व थिएटर की बहुत बहुत शुभकामनाये देता हूँ। वही बसपा अध्यक्ष मायावती ने कहा की भारतीय रक्षा वैज्ञानिको के सफल परिक्षण में बधाई डी और मोदी पर वार कर कहा कि श्री मोदी द्वारा चुनावी लाभा के लिए राजनीती करना अति निंदनीय है। चुनाव आयोग को इसका सख्त संज्ञान लेना चाहिए।

अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए पीएम मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा की आज नरेंद्र मोदी ने खुद के लिए फ्री के एक घंटे टीवी पर और देश का ध्यान जमीनी मुद्दों से हटाने का काम किया। बेरोजगारी, ग्रामीण संकट औक महिलाओं की सुरक्षा के बजाय वे आसमान की ओर देख रहे हैं। दूसरी तरफ कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने कहा, ‘ये कार्यक्रम डॉ. मनमोहन सिंह के नेतृत्व में यूपीए सरकार के वक्त शुरू किया गया था। यूपीए सरकार ने ASAT कार्यक्रम की शुरुआत की थी जो आज फलफूल रहा है। मैं हमारे अंतरिक्ष वैज्ञानिकों और मनमोहन सिंह के दूरदर्शी नेतृत्व को बधाई देता हूं।

Related Article:Facebook’s inaction helped Christchurch terror video become viral

पीएम मोदी के संबोधन के बाद यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर प्रधानमंत्री के नेतृत्व और डीआरडीओ के वैज्ञानिकों की तारीफ की, सीएम योगी ने लिखा, ‘प्रधानमंत्री मोदी के मार्गदर्शन में डीआरडीओ और इसरो के वैज्ञानिकों को मिशन शक्ति जैसे कठिन ऑपरेशन को सफलतापूर्वक करने और अंतरिक्ष महाशक्ति बनाने के लिए विशेष अभिनंदन।  वही मिशन शक्ति पर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा , ‘यह एक ऐतिहासिक दिन है, भारत एक मजबूत अंतरिक्ष शक्ति के रूप में उभरा है, जिसके लिए सभी वैज्ञानिक और प्रधानमंत्री प्रशंसा के पात्र हैं।

वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने कहा, हमने चुनाव से पहले नेशनल टीवी और रेडियो पर मोदी की भव्य घोषणा के लिए सांस रोककर प्रतीक्षा की, मोदी ने डीआरडीओ और इसरो के दशकों पुराने काम को एक एंटी सैटेलाइट हथियार के रूप में अपनी नई ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ के रूप में घोषित किया।’ उन्होंने तंज किया कि अब हमारे लोगों को 10 करोड़ नौकरियां मिल जाएंगी।

प्रियंका चतुर्वेदी ने लिखा,’अंतरिक्ष महाशक्ति बनने पर भारतीय अंतरिक्ष विज्ञान के वैज्ञानिकों के कार्य को सलाम! आज पंडित जवाहर लाल नेहरु व होमी जहांगीर भाभा जी की दूरदर्शिता को भी सलाम, जिसके कारण भारत आज दुनिया का चौथा अंतरिक्ष महाशक्ति बनने में सफल हो पाया।

Summary
Article Name
Mission Shakti: Opposition lauds DRDO, ISRO, hits out at PM Modi
Description
मिशन शक्ति भारत के अंतरिक्ष इतिहास की सबसे बड़ी उपलब्धि है। डीआरडीओ ने अंतरिक्ष में सैटलाइट को मार गिराया और अपनी ऐंटी सैटेलाइट क्षमता का प्रदर्शन किया। इसके साथ ही भारत दुनिया का चौथा देश बन गया है जिसके पास अंतरिक्ष में भी मार करने की क्षमता है। अब तक अमेरिका, रूस और चीन के पास यह क्षमता थी।
Author
Publisher Name
The Policy Times