केंद्रीय मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा ने मोदी सरकार से दिया इस्तीफा, राम मंदिर मुद्दे पर भी भाजपा का किया था विरोध

लंबे समय से एनडीए से नाराज़ चल रहे केन्द्रीय मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा ने आज मोदी सरकार से इस्तीफा दे दिया| काफी समय से लोकसभा चुनाव के लिए एनडीए में सीट बंटवारे में आरएलएसपी को तरजीह नहीं दिए जाने की वजह से वह केंद्र की भाजपा सरकार से नाराज़ थे| ऐसी भी खबरें हैं कि कुशवाहा विपक्ष की महाबैठक में भी शामिल हो सकते हैं।

0
124 Views

लंबे समय से एनडीए से नाराज़ चल रहे केन्द्रीय मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा ने आज मोदी सरकार से इस्तीफा दे दिया| काफी समय से लोकसभा चुनाव के लिए एनडीए में सीट बंटवारे में आरएलएसपी को तरजीह नहीं दिए जाने की वजह से वह केंद्र की भाजपा सरकार से नाराज़ थे| ऐसी भी खबरें हैं कि कुशवाहा विपक्ष की महाबैठक में भी शामिल हो सकते हैं।

बता दें कि बिहार में सीट बंटवारे पर कुशवाहा काफी समय से बीजेपी से नाराज चल रहे थे| वह राज्य में ज्यादा सीटों पर दावेदारी कर रहे थे लेकिन बीजेपी ने उनकी मांग को तवज्जो नहीं दी थी|

Related Article:सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर रिटायर्ड जनरल डीएस हुड्डा ने कहा, इस पर राजनीति करना गलत

संसद के शीतकालीन सत्र के एक दिन पहले ख़ासकर पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के परिणाम का इंतज़ार किए बिना इस्तीफ़ा देकर कुशवाहा ने निश्चित रूप से इस बात का संकेत दिया है कि लोकसभा चुनाव और उसके बाद बिहार के विधानसभा चुनावों में वो अब एनडीए के साथ नहीं बल्कि नीतीश कुमार को सता से बेदखल करने के अपने लक्ष्य पर काम करते दिखेंगे| कुशवाहा ने इस संबंध को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक पत्र भी लिखा जिसमें उन्होंने कहा, ‘मैं जबरदस्त आशा और उम्मीदों के साथ आपके नेतृत्व में एनडीए का साथ पकड़ा था| 2014 को लोकसभा चुनाव में आपने बिहार के लोगों से जो भी वादे किए थे उसी को देखते हुए मैंनै अपना समर्थन बीजेपी को दिया था|’

माना जा रहा है कि उपेंद्र कुशवाहा अब एनडीए से गठबंधन तोड़ने का भी ऐलान कर सकते हैं| उपेंद्र कुशवाहा मीडिया कॉफ्रेंन्स कर मंत्री पद से इस्तीफा और एनडीए से गठबंधन तोड़ने का ऐलान कर सकते हैं| आपको बता दें कि उपेंद्र कुशवाहा लगातार जेडीयू के खिलाफ बयानबाजी कर रहे थे| वहीं, मोतिहारी में आरएलएसपी पार्टी की सभा में केंद्र के बीजेपी नेता के साथ-साथ राज्य के नेताओं पर जमकर हमला बोला| यही नहीं कुशवाहा ने राम मंदिर के मुद्दे पर भी बीजेपी के कार्यशैली का विरोध किया था|

Related Article:दलित नेता और बीजेपी सांसद सावित्रीबाई फुले हुईं भाजपा से अलग, पार्टी पर लगाया बड़े आरोप

फिलहाल, तेजस्वी यादव जो महागठबंधन के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हैं, उनके अगुवाई में राजनीति करने के लिए तैयार हैं. कुशवाहा का ये राजनीतिक दांव कितना सटीक बैठता है वो लोकसभा चुनाव का परिणाम और विधानसभा चुनाव के नतीजों से ही पता चलेगा| फिलहाल उनके जाने का नफा-नुक़सान का आकलन जारी है| जहां भाजपा और जनता दल यूनाइटेड के नेताओं का मानना हैं कि उन्हें इस बात का भरोसा कुशवाहा के रूख और तेवर से लग गया था कि वो अब लालू और तेजस्वी यादव के साथ राजनीति करना चाहते हैं|

Summary
Union minister Upendra Kushwaha resigns from Modi government, Ram temple issue was also opposed by BJP
Article Name
Union minister Upendra Kushwaha resigns from Modi government, Ram temple issue was also opposed by BJP
Description
लंबे समय से एनडीए से नाराज़ चल रहे केन्द्रीय मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा ने आज मोदी सरकार से इस्तीफा दे दिया| काफी समय से लोकसभा चुनाव के लिए एनडीए में सीट बंटवारे में आरएलएसपी को तरजीह नहीं दिए जाने की वजह से वह केंद्र की भाजपा सरकार से नाराज़ थे| ऐसी भी खबरें हैं कि कुशवाहा विपक्ष की महाबैठक में भी शामिल हो सकते हैं।
Author
Publisher Name
THE POLICY TIMES
Publisher Logo