बॉलीवुड के बाद अब मीडिया इंडस्ट्रीज पर भी यौन उत्पीड़न का आरोप

तनुश्री दत्ता के नाना पाटेकर पर लगाए गए आरोप के बाद कई महिलाएं मी टू कैंपेन के तहत अपनी-अपनी शारीरिक उत्पीड़न की कहानियों शेयर कर रही हैं| 

0

मी टू (#MeToo) अभियान के तहत भारत में भी महिलाएं अपने साथ हुए सेक्सुअल हैरेसमेंट और सेक्सुअल एब्यूज के बारे में खुलकर बता रही हैं| बॉलीवुड के बाद अब इसमें मीडिया इंडस्ट्री का भी नाम सामने आने लगा है| तनुश्री दत्ता के बाद कंगना रनौत ने भी अपने साथ हुई घटना के बारे में बताया है|

तनुश्री दत्ता का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है| इस बीच मी टू कैंपेन के तहत ‘क़्वीन’ के डायरेक्टर विकास बहल, लेखक चेतन भगत और डीएनए के पूर्व एडिटर इन चीफ गौतम अधिकारी पर भी यौन उत्पीड़न का आरोप लगा है| बॉलीवुड डायरेक्टर विकास बहल पूर्व प्रोडक्शन हाउस फैंटम फिल्म्स की पूर्व महिला कर्मचारी ने विकास बहल पर आरोप लगाते हुए उन पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है| जिसके बाद मी टू कैंपेन के तहत यौन उत्पीड़न मामले में चेतन भगत और गौतम अधिकारी का नाम भी सामने आया है|

तनुश्री दत्ता के नाना पाटेकर पर लगाए गए आरोप के बाद कई महिलाएं मी टू कैंपेन के तहत अपनी-अपनी शारीरिक उत्पीड़न की कहानियों शेयर कर रही हैं|  प्रोडक्शन हाउस फैंटम फिल्मस की एक महिला कर्मचारी ने पिछले साल आरोप लगाया था कि ‘5 मई, 2015 को डायरेक्टर विकास बहल ने उसके साथ गोवा की यात्रा के दौरान गलत तरीके से व्यवहार किया था |

कंगना रनौत ने भी इसका समर्थन करते हुए बहल पर आरोप लगाए हैं|

कंगना ने एक बयान में कहा, ‘मैं पूरी तरह से उस पर (महिला) विश्वास करती हूं| हम जब 2014 में ‘क्वीन’फिल्म की शूटिंग कर रहे थे उस वक्त शादीशुदा होने के बावजूद भी बहल मेरे सामने यह शेखी बघारते थे कि वह रोज-रोज एक नई लड़की के साथ यौन संबंध बनाते हैं”.

रनौत ने कहा, ‘‘हम जब कभी भी मिलते थे वह मेरी गर्दन पर अपना चेहरा रखकर मुझे कसकर पकड़ते थे और मेरे बालों को सूंघते थे| मुझे उन्हें हटाने में काफी जोर लगाना पड़ता था”| कंगना ने यहां तक कहा कि जब उन्होंने उनकी कंपनी में काम कर रही महिला का समर्थन किया तो विकास ने उनसे एक फिल्म वापस ले ली जिसपर वो काम करने वाली थीं|

एक महिला ने मशहूर लेखक चेतन भगत के साथ बातचीत का स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर शेयर किया है| इस स्क्रीनशॉट के शेयर होने के कुछ समय बाद ही चेतन भगत ने संबंधित महिला से सोशल मीडिया पर माफी मांगी है| उन्होंने इस स्क्रीनशॉट का जिक्र करते हुए अपनी गलती स्वीकार की है और एक लंबी फेसबुक पोस्ट लिखी है|

चेतन ने फेसबुक पर लिखा है कि उन्हें उस घटना के लिए काफी दुख है| चेतन ने अपनी पोस्ट में लिखा है कि मैं माफी चाहता हूं ये स्क्रीनशॉट कई साल पुराना है| उन्होंने लिखा कि उन्हें वह महिला बेहद खास लगी थीं|

मी टू अभियान में मीडिया के बड़े दिग्गजों का नाम

भारत में जब सोशल मीडिया पर मी टू अभियान की शुरुआत हुई तो बहुत सारी महिलाएं सामने आ रही हैं| अब इस अभियान में मीडिया के दिग्गजों के नाम भी सामने आना शुरू हो गए हैं| मुंबई में डीएनए के एडिटर-इन-चीफ रहे गौतम अधिकारी और टाइम्स ऑफ इंडिया, हैदराबाद के रेजिडेंट एडिटर के.आर श्रीनिवासन के नाम भी मी टू कैंपेन के तहत सामने आए हैं जिनपर उन्होंने प्रतिक्रिया व्यक्त की है|

एक महिला पत्रकार ने डीएनए के एडिटर इन चीफ रहे गौतम अधिकारी पर आरोप लगाया है कि उन्होंने उसकी सहमति के बगैर उसे किस किया था| इस मामले पर गौतम अधिकारी ने कहा कि उन्हें बिल्कुल याद नहीं है| उन्होंने द संडे एक्सप्रेस को बताया कि इस घटना के बारे में मुझे कुछ भी याद नहीं है| मुझे वह महिला एक सहयोगी के रुप में याद है जिसके साथ मैंने अन्य सहयोगियों की तरह सम्मान और विनम्रता के साथ व्यवहार किया| उन्होंने कहा कि मैं अब मीडिया जगत से सेवानिवृत हो चुका हूं लेकिन कभी-कभी लिखता भी हूं| उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर लगाए गए इस तरह के आरोपों का कानून के माध्यम से शायद ही कभी सामना किया जा सकता है| इसलिए वे इस पर कानूनी कार्रवाई करने पर भी विचार नहीं कर रहे|

इसके अलावा टाइम्स ऑफ इंडिया, हैदराबाद के रेजिडेंट एडिटर के.आर श्रीनिवास पर एक महिला पत्रकार द्वारा लगाए आरोपों पर भी जवाब आया है|  टाइम्स ऑफ इंडिया के प्रकाशक बीसीसीएल ने एक बयान जारी कर कहा है कि उनके पास एक मजबूत यौन उत्पीड़न रोकथाम नीति है| कंपनी कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न के किसी भी मामले को बर्दाश्त नहीं करती है| ऐसे मामलों की जांच करने के लिए बीसीसीएल ने समिति भी बनाई है जिसकी अध्यक्षता एक महिला कार्यकारी द्वारा की जाती है| समिति मामलों की जांच और निवारण के लिए कानूनी जानकारों की भी मदद लेती है| बीसीसीएल इस समिति के फैसलों का सम्मान करती है| इसके साथ ही बीसीसीएल अपने सभी कर्मचारियों को एक सुरक्षित वातावरण देने के लिए प्रतिबद्ध है|

Summary
बॉलीवुड के बाद अब मीडिया इंडस्ट्रीज पर भी यौन उत्पीड़न का आरोप
Article Name
बॉलीवुड के बाद अब मीडिया इंडस्ट्रीज पर भी यौन उत्पीड़न का आरोप
Description
तनुश्री दत्ता के नाना पाटेकर पर लगाए गए आरोप के बाद कई महिलाएं मी टू कैंपेन के तहत अपनी-अपनी शारीरिक उत्पीड़न की कहानियों शेयर कर रही हैं| 
Author
Publisher Name
The Policy Times
Publisher Logo