सरदार पटेल की प्रतिमा के बाद भगवान राम की प्रतिमा बनाने की योजना

भारत में बने सरदार वल्लभाई पटेल की 182 मीटर ऊँची प्रतिमा के बाद अब योगी सरकार राम की मूर्ति बनाने की योजना बना रही है|

0
After sardar patel government is planning to make Lord Rama Statue

भारत में बने सरदार वल्लभाई पटेल की 182 मीटर ऊँची प्रतिमा के बाद अब योगी सरकार राम की मूर्ति बनाने की योजना बना रही है| अयोध्या नगर निगम के महापौर ऋषिकेश उपाध्याय ने पीटीआई से कहा कि अयोध्या में सरयू नदी के तट पर भगवान राम की 151 मीटर लंबी प्रतिमा बनाने का प्रस्ताव है| प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दीपावली के अवसर पर इसकी घोषणा कर सकते हैं| बीजेपी नेता उपाध्याय ने कहा है कि जहां प्रतिमा की स्थापना की जाएगी, उस जगह का चुनाव मिट्टी परीक्षण के बाद किया जाएगा|

पर्यटन विभाग इसे लेकर रूप रेखा तैयार कर रहा है| इसके साथ ही सरकार रामकथा गैलरी, पर्यटकों के ठहरने का स्थल, सीसीटीवी कैमरा, पुलिस बूथ, आवागमन के साधन, शौचालय तथा जल निकासी की समुचित व्यवस्था करेगी। राम की प्रतिमा बनने की खबरों के बाद इस बार अयोध्या की दीवाली और ज्यादा भव्य हो गई है| इस बार अयोध्या के घाटों पर तीन लाख दिए जलाकर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने की योजना है|

जानकारी के मुताबिक राम की प्रतिमा संत तुलसीदास घाट के आसपास बनाए जाने की संभावना है| अधिकारी दो-तीन स्थलों को देख रहे हैं जिनमें से वे सबसे अच्छी जगह का चुनाव करेंगे | वहीं बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या को लेकर कोई योजना बनाई होगी जो भगवान राम की जन्मभूमि है| उन्होंने कहा कि दीपावाली आने दीजिए, आपको अच्छी खबर मिलेगी|

330 करोड़ रूपए की लागत से बनेगी राम की 151 ऊँची प्रतिमा

इस प्रॉजेक्‍ट के लिए योगी आदित्यनाथ सरकार कॉर्पोरेट फंड्स जुटाने की तैयारी में है। योगी सरकार ने वाराणसी और गोरखपुर समेत यूपी के 10 शहरों के 2725 करोड़ रूपए के 86 टूरिजम प्रॉजेक्ट्स में कंपनियों को सीएसआर (कॉर्पोरेट्स सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी) फंड्स खर्च करने की अनुमति दे दी है। बता दें कि कंपनियों को उनके नेट प्रॉफिट का 2 फीसदी हिस्सा सीएसआर फंड्स के तौर पर सामाजिक विकास के लिए खर्च करना पड़ता है।

Related Articles:

इन 86 प्रॉजेक्ट्स में एक 330 करोड़ रूपए की लागत से तैयार होने वाली राम की 151 मीटर ऊंची प्रतिमा है। दूसरा प्रॉजेक्ट सरयू किनारे 350 करोड़ की लागत से बनने वाली नई अयोध्या है। इसमें 7डी रामलीला, रामकथा गैलरी, रामलीला पर लाइट ऐंड साउंड शो के अलावा म्यूजिकल फाउंटेन बनाए जाने हैं। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने पिछले साल इन प्रॉजेक्ट्स की घोषणा की थी। इसके तुरंत बाद पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने भी सैफई में कृष्ण की 50 मीटर ऊंची प्रतिमा बनवाने की घोषणा की थी।

यूपी सरकार ने इन प्रॉजेक्ट्स के लिए एक 26 पेजों की बुकलेट तैयार किया है। यूपी के प्रधान सचिव (टूरिजम) अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि अभी इस बुकलेट को पब्लिश होना है कि लेकिन यह सरकार की नई टूरिजम नीति का हिस्सा है। अयोध्या के ऐसे 4 प्रॉजेक्ट्स के लिए 755 करोड़ रुपए का बजट भी दिया है। बुकलेट के मुताबिक अयोध्या भगवान राम के भक्तों के लिए गर्व का विषय है और इसमें अंतरराष्ट्रीय टूरिस्ट डेस्टिनेशन बनने की प्रबल संभावनाएं हैं।

पिछले साल योगी सरकार की ओर से अयोध्या में 100 मीटर ऊंची भगवान राम की प्रतिमा लगाने की घोषणा की गई थी। योगी सरकार के इस ऐलान को दिवाली की इसी खुशखबरी से जोड़कर देखा जा रहा है। उम्मीद है कि 6 नवंबर यानी छोटी दिवाली के दिन सीएम योगी इसकी घोषणा कर सकते हैं वहीँ, इस साल दक्षिण कोरिया की फर्स्ट लेडी मुख्य अतिथि के तौर पर मौजूद होंगी| पिछले वर्ष योगी सरकार ने अयोध्या में दीपोत्सव की शुरुआत की थी| दीपोत्सव की वजह से पर्यटकों की संख्या में इजाफा हुआ था| आज अयोध्या में अन्य वर्षो की अपेक्षा ज्यादा पर्यटक आ रहे हैं|

Summary
सरदार पटेल की प्रतिमा के बाद भगवान राम की प्रतिमा बनाने की योजना
Article Name
सरदार पटेल की प्रतिमा के बाद भगवान राम की प्रतिमा बनाने की योजना
Description
भारत में बने सरदार वल्लभाई पटेल की 182 मीटर ऊँची प्रतिमा के बाद अब योगी सरकार राम की मूर्ति बनाने की योजना बना रही है|
Author
Publisher Name
The Policy Times
Publisher Logo