एयर स्ट्राइक के बाद सभी राजनीतिक दलों ने सेना के पराक्रम को सराहा

पाकिस्तान के आतंकी कैंप पर भारतीय वायुसेना ने हवाई हमला किया और उसके सारे कैम्पों को तबाह कर दिया| सरकारी सूत्रों ने खबर दी है कि वायुसेना की इस बड़ी कार्रवाई में करीब 300 आतंकवादी मारे गए हैं और इसमें जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अज़हर का बहनोई यूसुफ अज़हर भी मारा गया है जो यह कैंप चला रहा था| भारतीय वायुसेना को इस बड़ी कार्रवाई को अंजाम देने में 12 मिराज फाइटर जेट का सहारा लेना पड़ा| इतना ही नहीं, करीब 1000 किलो बम भी बरसाए गए|

0
After the Air Strike, all the political parties appreciated the army's fortunes
249 Views

पाकिस्तान के आतंकी कैंप पर भारतीय वायुसेना ने हवाई हमला किया और उसके सारे कैम्पों को तबाह कर दिया| सरकारी सूत्रों ने खबर दी है कि वायुसेना की इस बड़ी कार्रवाई में करीब 300 आतंकवादी मारे गए हैं और इसमें जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अज़हर का बहनोई यूसुफ अज़हर भी मारा गया है जो यह कैंप चला रहा था| भारतीय वायुसेना को इस बड़ी कार्रवाई को अंजाम देने में 12 मिराज फाइटर जेट का सहारा लेना पड़ा| इतना ही नहीं, करीब 1000 किलो बम भी बरसाए गए| बता दें कि 14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे, जिसकी जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी|

पाकिस्तान में आतंकी शिविरों पर भारत की कार्रवाई के बाद विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं ने वायुसेना की जमकर तारीफ की तो भाजपा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की राजनीतिक इच्छाशक्ति से यह अंतर दिखा है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने वायुसेना के पायलटों को सलाम किया। भाजपा महासचिव राम माधव ने कहा, ‘हमारे जवानों की शहादत का दर्द महसूस करने और आक्रोशित होने वाले हर भारतीय को आज की सुबह राहत और प्रसन्नता मिली। इस अभियान के लिए हम वायुसेना को सलाम करते हैं। हमारे सुरक्षा बल विश्वस्तरीय हैं। यह हमारे प्रधानमंत्री और टीम की राजनीतिक इच्छाशक्ति है जिसने फर्क डाला है।

Related Article:जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में बड़ा आतंकी हमला, 12 जवान शहीद; 15 घायल

केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने भी पाकिस्तान के भीतरी हिस्से में भारतीय वायु सेना के हवाई हमले की मंगलवार को सराहना की और कहा कि पूरा राष्ट्र सशस्त्र बलों के साथ खड़ा है। उन्होंने कहा, ‘देश की सुरक्षा के लिए यह एक आवश्यक कदम था…यह महा पराक्रम की एक कार्रवाई है।’ जाडव़ेकर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुलवामा आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवानों के शहीद होने के मद्देनजर बलों को आवश्यक कदम उठाने के लिए पहले ही छूट दे दी थी।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने वायुसेना की तारीफ करते हुए कहा, ‘वायुसेना का मतलब बेहतरीन योद्धा। जयहिंद।

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा, ‘वायुसेना के हवाई हमले पाकिस्तान और आतंकवादियों को बहुत जरूरी संदेश दिया है- यह मत सोचिए कि आप पुलवामा हमले जैसी हरकत करेंगे और बच जाएंगे। वायुसेना के जवानों को शाबाशी देता हूं और इस कार्रवाई के प्रति पूरा समर्थन जताता हूं।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, ‘यह एक साहसिक काम है। पूरा देश गर्व महसूस कर रहा है। मैं सुरक्षाबलों को बधाई देता हूं। पूरा देश सरकार और पीएम के साथ था। कड़ी कार्रवाई जरूरी थी|

Related Article:केंद्र सरकार ने कश्मीर में भेजी अर्धसैनिक बलों की 100 कंपनियां

एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने भी समर्थन किया है। उन्होंने कहा, ‘आतंकियों पर हमले का स्वागत करता हूं। किसी तरह की जवाबी कार्रवाई के लिए तैयार रहे सेना। मैं सरकार और सेना के फैसले के साथ खड़ा हूं।

जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने मंगलवार को कहा कि कोई यह अंदाजा नहीं लगा सकता कि भारतीय वायु सेना (आईएएफ) द्वारा नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पार किए गए हमले के बाद आगे क्या होगा क्योंकि नुकसान के संबंध में कोई जानकारी नहीं है| पाकिस्तान ने दावा किया है कि भारतीय वायु सेना (आईएएफ) के विमानों ने नियंत्रण रेखा (एलओसी) पार की और पाकिस्तान वायुसेना द्वारा जवाबी कार्रवाई करने के बाद जल्दबाजी में बम गिराने के बाद लौट गए| वहीं अलग-अलग रिपोर्टों को विरोधाभासी बताकर पीडीपी नेता और पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने वायुसेना की कार्यवाई पर सवाल खड़ा किया है|

दरअसल, भारतीय वायु सेना के लड़ाकू विमानों ने मंगलवार को तड़के नियंत्रण रेखा के दूसरी ओर पाकिस्तानी हिस्से में कई आतंकी शिविरों पर बमबारी की। सरकार से जुड़े सूत्रों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि यह कार्रवाई जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को आतंकी गुट जैश ए मोहम्मद द्वारा किए गए आत्मघाती हमले के ठीक 12 दिन बाद की गई है। पुलवामा हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे।

Summary
Article Name
After the Air Strike, all the political parties appreciated the army's fortunes
Description
पाकिस्तान के आतंकी कैंप पर भारतीय वायुसेना ने हवाई हमला किया और उसके सारे कैम्पों को तबाह कर दिया| सरकारी सूत्रों ने खबर दी है कि वायुसेना की इस बड़ी कार्रवाई में करीब 300 आतंकवादी मारे गए हैं और इसमें जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अज़हर का बहनोई यूसुफ अज़हर भी मारा गया है जो यह कैंप चला रहा था| भारतीय वायुसेना को इस बड़ी कार्रवाई को अंजाम देने में 12 मिराज फाइटर जेट का सहारा लेना पड़ा| इतना ही नहीं, करीब 1000 किलो बम भी बरसाए गए|
Publisher Name
The Policy Times