कनाडा में मिल सकती है आसिया बीबी को पनाह: जस्टिन ट्रूडो

आसिया और उसके परिजनों की जान को खतरा देखकर उन्हें अज्ञात स्थान पर सुरक्षित रखा गया है। इस बीच कनाडा आसिया बीबी को संभावित रूप से आश्रय देने के लिए पाकिस्तान से बातचीत कर रहा है।

0
2 Views

पाकिस्तान में ईशनिंदा के आरोप से ईसाई महिला आसिया बीबी के मुक्त होने के बाद इस्लामिक कट्टरपंथियों में उबाल है। जगहजगह हो रहे विरोध प्रदर्शनों के बाद दुनियाभर की निगाहें पाकिस्तान पर हैं। आसिया और उसके परिजनों की जान को खतरा देखकर उन्हें अज्ञात स्थान पर सुरक्षित रखा गया है। इस बीच कनाडा आसिया बीबी को संभावित रूप से आश्रय देने के लिए पाकिस्तान से बातचीत कर रहा है।

यह बात कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने इंटरव्यू के दौरान कही। उन्होंने आगे कहा कि हम पाकिस्तान सरकार से चर्चा कर रहे हैं। हालांकि, मामले की गंभीरता को देखते हुए वह इस मुद्दे पर इससे अधिक जानकारी नहीं देना चाहते। उन्होंने कहा, लेकिन वह लोगों को ये याद दिलाना चाहते हैं कि कनाडा एक वेलकमिंग कंट्री है।

बताया जा रहा है कि आसिया बीबी इस वक्त पाकिस्तान में ही हैं, लेकिन वह कहां हैं इसके बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है। इस्लामी कट्टरपंथियों के उनके खिलाफ प्रदर्शन करने के कारण उनकी जान को खतरा है। हालांकि, कुछ मीडिया रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि वह पाकिस्तान छोड़ चुकी हैं। इसके चलते कई देशों की सरकारों ने उन्हें और उनके परिवार को आश्रय देने की पेशकश की है।

वहीं बीबी के पति ने ब्रिटेन, अमेरिका और कनाडा से अपील कर दावा किया है कि बीबी की जान तब तक खतरे में है, जब तक वह पाकिस्तान में रहेंगी। इस दौरान नीदरलैंड के विदेश मंत्रालय ने भी इस बात को खारिज कर दिया है कि बीबी के वकील को शरण देने के कारण सुरक्षा के खतरे से उनका दूतावास बंद रहा।

Related Articles:

वहीं पाकिस्तान छोड़ नीदरलैंड जाने संबंधी रिपोर्ट कोफर्जी खबरबताया गया है। विदेश विभाग के प्रवक्ता डॉ. मोहम्मद फैजल ने कहा कि पांच बच्चों की मां आसिया के देश छोड़ने की खबरों में कोई सच्चाई नहीं है। उन्होंने कहा कि इन खबरों में कोई सच्चाई नहीं है, येफर्जी खबरहैं। पाकिस्तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने इस तरह की खबरों को खारिज किया।

बता दें की निचली अदालत से आठ साल पहले मौत की सजा पाई आसिया को 31 अक्टूबर को सुप्रीम कोर्ट ने दोषमुक्त कर दिया था। इस फैसले से पाकिस्तान में कट्टरपंथी उबल पड़े हैं। उन्होंने देश के प्रमुख शहरों की सड़कें जाम कर फैसला सुनाने वाले सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीशों की हत्या करने तक की धमकी दी है।

Summary
Description
आसिया और उसके परिजनों की जान को खतरा देखकर उन्हें अज्ञात स्थान पर सुरक्षित रखा गया है। इस बीच कनाडा आसिया बीबी को संभावित रूप से आश्रय देने के लिए पाकिस्तान से बातचीत कर रहा है।
Author
Publisher Name
The Policy Times
Publisher Logo