ढेंकनाल: महिलाओं ने ‘चिपको आंदोलन’ की तरह पेड़ो को बचाया, मुख्यमंत्री ने परियोजना पर लगाई रोक

ओडिशा के ढेंकनाल में बियर फैक्ट्री के निर्माण कार्य को लेकर पेड़ों की कटाई पर बढ़ते विवाद के कारण मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने रोक लगा दी है| पेड़ो की कटाई को रोकने को लेकर पुलिस और स्थानीय लोगों के बीच झड़प हो गई थी जिसके चलते मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने परियोजना को रोक दी और जांच के आदेश दिए है|

0
dankanal-womens-are-sticks
205 Views

ओडिशा के ढेंकनाल में बियर फैक्ट्री के निर्माण कार्य को लेकर पेड़ों की कटाई पर बढ़ते विवाद के कारण मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने रोक लगा दी है| पेड़ो की कटाई को रोकने को लेकर पुलिस और स्थानीय लोगों के बीच झड़प हो गई थी जिसके चलते मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने परियोजना को रोक दी और जांच के आदेश दिए है|

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक विरोध में बड़ी संख्या में लोगों के बाहर निकलने पर परियोजना रोकी गई है| अधिकारी ने बताया कि पेड़ों को काटने से रोकने के लिए प्रदर्शनकारी पेड़ों से लिपट गए थे जिसके बाद उनके और पुलिस कर्मियों के बीच हाथापाई हो गई| स्थानीय लोगों का कहना है कि वे दशकों से एक समुदाय द्वारा विकसित वन बनाने के लिए पेड़ों की देखभाल कर रहे हैं|

Related Article:

शनिवार को एक अधिकारी ने बताया कि निजी कंपनी की शराब कारखाना लगाने की परियोजना के लिए 12.59 एकड में लगे  950 से अधिक पेड़ काटने से स्थानीय लोग बड़ी संख्या में बाहर निकले| प्रशासन ने नुकसान की क्षतिपूर्ति के लिए एक की जगह दो-दो पौधे लगाए जाने का वादा किया है लेकिन लोगों ने अपना प्रदर्शन जारी रखा है|

ढेंकनाल के पुलिस अधीक्षक संतोष नायक ने कहा कि तीन महिलाएं समेत 13 प्रदर्शनकारियों को एहतियातन हिरासत में लिया गया था और बाद में जमानत पर रिहा कर दिया गया|    मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) के एक अधिकारी ने बताया कि मुख्यमंत्री पटनायक ने रविवार को ढेंकनाल के बलरामपुर इलाके में पेड़ों की कटाई को बंद करने का आदेश दिया है| उन्होंने राजस्व मंडलीय आयुक्त (आरडीसी-उत्तरी मंडल) से घटना की जांच करने के लिए भी कहा है|

पेड़ों को बचाने का यह आन्दोलन उत्तराखंड में सुन्दरलाल बहुगुड़ा के ‘चिपको आंदोलन’ जैसा है| गाँव में स्थानीय लोग पेड़ों से चिपक कर पेड़ बचाने में लगे है| वन विभाग के अनुसार ढेंकनाल जिले के बलरामपुर में शराब कारखाने के लिए अब तक 500 से अधिक पेड़ काटे जा चुके है| मुख्यमंत्री ने रेवन्यू डिवीज़नल कमिश्नर को जांच के आदेश देते हुए जल्द ही रिपोर्ट सौपने को कहा है|

पर्यावरण कार्यकर्ता प्रफुल्ल सामंतरा ने पर्यावरण नष्ट करके बियर फैक्ट्री के निर्माण की अनुमति के लिए राज्य सरकार की निंदा की है| उल्लेखनीय है कि गाँव वालों ने सामाजिक कार्यकर्ता की मदद से नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल में याचिका लगाई थी जिसकी सुनवाई कल यानी 20 नवंबर को होनी है|

Summary
dankanal-womens-are-sticks
Article Name
dankanal-womens-are-sticks
Description
ओडिशा के ढेंकनाल में बियर फैक्ट्री के निर्माण कार्य को लेकर पेड़ों की कटाई पर बढ़ते विवाद के कारण मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने रोक लगा दी है| पेड़ो की कटाई को रोकने को लेकर पुलिस और स्थानीय लोगों के बीच झड़प हो गई थी जिसके चलते मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने परियोजना को रोक दी और जांच के आदेश दिए है|
Author
Publisher Name
THE POLICY TIMES
Publisher Logo