आतिशी के खिलाफ आपत्तिजनक पर्चे बांटने के लिए अखबार बेचने वाले को मिले थे पैसे: रिपोर्ट

आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी आतिशि के खिलाफ बटंवाए गए पर्चे पर सियासी घमासान मचा हुआ है। एक तरफ जहां आम आदमी पार्टी इसे बीजेपी और गौतम गंभीर की साजिश बता रही है तो वहीं दूसरी तरफ क्रिकेटर से नेता बने गौतम गंभीर इन सब आरोपों को सिरे से खारिज कर रहे हैं। इसी बीच अब इस मामले में नया खुलासा हुआ है। अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक एक न्यूज़पेपर वेंडर को 300 पर्चे बंटाने के लिए पैसे दिए गए थे। रिपोर्ट के मुताबिक, पूर्वी दिल्ली के योजना विहार इलाके के इस वेंडर ने कहा कि गुरुवार की सुबह उन्हें अखबार के साथ 300 पर्चे बांटने के लिए पैसे मिले थे, जिसे `ए` और `सी` ब्लॉक में बांटे गए. हर 100 पर्चे बांटने के लिए 15 रुपये दिए जाते हैं।

0
distribute objectionable papers against Aartishi
222 Views

आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी आतिशि के खिलाफ बटंवाए गए पर्चे पर सियासी घमासान मचा हुआ है। एक तरफ जहां आम आदमी पार्टी इसे बीजेपी और गौतम गंभीर की साजिश बता रही है तो वहीं दूसरी तरफ क्रिकेटर से नेता बने गौतम गंभीर इन सब आरोपों को सिरे से खारिज कर रहे हैं। इसी बीच अब इस मामले में नया खुलासा हुआ है। अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक एक न्यूज़पेपर वेंडर को 300 पर्चे बंटाने के लिए पैसे दिए गए थे।  रिपोर्ट के मुताबिक, पूर्वी दिल्ली के योजना विहार इलाके के इस वेंडर ने कहा कि गुरुवार की सुबह उन्हें अखबार के साथ 300 पर्चे बांटने के लिए पैसे मिले थे, जिसे `ए` और `सी` ब्लॉक में बांटे गए. हर 100 पर्चे बांटने के लिए 15 रुपये दिए जाते हैं।

Related Article : Ongoing election rides high on emotions and nationalism

न्यूज़पेपर वेंडर एसोसिएशन के सचिव रामांकत ने कहा कि उनके वेंडर ने ये पर्चे नहीं बांटे थे। उन्होंने कहा कि पिछले 8 दिनों से वो लगातार आम आदमा पार्टी का पर्चा अखबार के साथ बांट रहे थे। इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, पूर्वी दिल्ली के रिटर्निंग ऑफिसर ने इस मामले में एफआईआर दर्ज करने को कहा है। लोकसभा चुनाव 2019 के छठे चरण के तहत दिल्ली में 12 मई को वोटिंग है। मतदान से पहले राजनीतिक दलों के बीच घमासान मचा हुआ है। गुरुवार को पूर्वी दिल्ली से आम आदमी पार्टी की प्रत्याशी आतिशी ने गौतम गंभीर पर आपत्तिजनक पर्चा बंटवाने का आरोप लगाया था। इसके बाद से दोनों दलों के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर लगातार जारी है।

गंभीर ने कहा था कि अगर ये आरोप सही साबित हो गया, तो वो तुरंत अपनी उम्मीदवारी वापस ले लेंगे। साथ ही उन्होंने ये भी कहा था कि अगर आरोप साबित हुए फिर वो सबके सामने फांसी लगा लेंगे। इस बीच गंभीर ने सीएम अरविंद केजरीवाल, मनीष सिसोदिया और आतिशी मारलेना पर मानहानि का नोटिस भेजा है। जवाब में आम आदमी पार्टी ने भी गंभीर के खिलाफ नोटिस भेजा है।

Related Article : लोकसभा चुनाव 2019: इस बार कम रही वोटिंग दर, जानिए किस

 

गंभीर को संदीप दीक्षित का साथ

इस बीच आम आदमी पार्टी की आतिशी के गंभीर आरोपो पर उन्हें कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित का साथ मिला है। दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के बेटे संदीप दीक्षित ने कहा है कि मैं गौतम गंभीर को जानता हूं, मुझे नहीं लगता है कि वह इस तरह की गिरी हुई हरकत करेंगे। हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि आतिशी के खिलाफ जो पर्चा निकला है वह बहुत भद्दा है, उसकी निंदा होनी चाहिए।

Summary
Article Name
distribute objectionable papers against AAP candidate Aatishi , ground report
Description
आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी आतिशि के खिलाफ बटंवाए गए पर्चे पर सियासी घमासान मचा हुआ है। एक तरफ जहां आम आदमी पार्टी इसे बीजेपी और गौतम गंभीर की साजिश बता रही है तो वहीं दूसरी तरफ क्रिकेटर से नेता बने गौतम गंभीर इन सब आरोपों को सिरे से खारिज कर रहे हैं। इसी बीच अब इस मामले में नया खुलासा हुआ है। अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक एक न्यूज़पेपर वेंडर को 300 पर्चे बंटाने के लिए पैसे दिए गए थे। रिपोर्ट के मुताबिक, पूर्वी दिल्ली के योजना विहार इलाके के इस वेंडर ने कहा कि गुरुवार की सुबह उन्हें अखबार के साथ 300 पर्चे बांटने के लिए पैसे मिले थे, जिसे `ए` और `सी` ब्लॉक में बांटे गए. हर 100 पर्चे बांटने के लिए 15 रुपये दिए जाते हैं।