मानव विकास सूचकांक में सुधार के बिना 10% ग्रोथ संभव नहीं, बिहार, उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों के कारण भारत पिछड़ा बना हुआ है: अमिताभ कांत

नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत ने कहा है कि 10% ग्रोथ हासिल करने के लिए देश को मानव विकास सूचकांक में सुधार करने की आवश्यकता है। चाइल्ड राइट्स ऑर्गेनाइजेशन प्लान इंडिया द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में कांत ने कहा है की हम 7.5 फीसदी की रफ्तार से विकास कर रहे हैं और यदि हमारा लक्ष्य तीन दशक तक 10 फीसदी की गति से बढ़ने का है तो यह मानव विकास सूचकांक में सुधार के बिना संभव नहीं है।

0
122 Views


नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत ने कहा है कि 10% ग्रोथ हासिल करने के लिए देश को मानव विकास सूचकांक में सुधार करने की आवश्यकता है। चाइल्ड राइट्स ऑर्गेनाइजेशन प्लान इंडिया द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में कांत ने कहा है की हम 7.5 फीसदी की रफ्तार से विकास कर रहे हैं और यदि हमारा लक्ष्य तीन दशक तक 10 फीसदी की गति से बढ़ने का है तो यह मानव विकास सूचकांक में सुधार के बिना संभव नहीं है।

Read More:नीतीश-भाजपा से नाराज कुशवाहा शरद से मिलने पहुंचे

अमिताभ कांत ने कहा कि यदि शिशु और मातृ मृत्यु दर अधिक रहे और तीन में से एक बच्चा कुपोषित हो तो इस तरह का विकास संभव नहीं है। 2016 में भारत मानव विकास सूचकांक में एक स्थान फिसलकर 188 देशों की सूची में 131वें स्थान पर रहा था।

बिहार, उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों के कारण भारत पिछड़ा बना हुआ है: नीति आयोग सीईओ

जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय में प्रथम अब्दुल गफ्फार खान स्मारक व्याख्यान के दौरान नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) अमिताभ कांत ने कहा की देश के दक्षिणी और पश्चिमी राज्य तेजी से प्रगति कर रहे हैं लेकिन बिहार, उत्तर प्रदेश और छत्तीसगढ़ जैसे राज्यों के कारण देश पिछड़ा बना हुआ है। उन्होंने कहा कि बिहार, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और राजस्थान जैसे राज्यों के कारण भारत पिछड़ा खासकर सामाजिक संकेतकों पर बना हुआ है।

Read More:लोकपाल का अधिकार और महत्व

मानव विकास सूचकांक में हम अब भी पिछड़े हैं जहां व्यापार में आसानी के मामले में हमने तेजी से सुधार किया है। चैलेंजेज ऑफ ट्रांसफॉर्मिंग इंडिया के मुद्दे पर कांत ने कहा कि देश के दक्षिणी और पश्चिमी राज्य बहुत अच्छा कर रहे हैं और तेजी से आगे बढ़ रहे हैं। अमिताभ कांत ने कहा कि मानव विकास सूचकांक में बेहतर करने के लिए हमें सामाजिक संकेतकों पर गौर करना होगा।



Summary
Article Name
India remains backward due to states like Bihar and UP: Policy Commission CEO
Description
नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत ने कहा है कि 10% ग्रोथ हासिल करने के लिए देश को मानव विकास सूचकांक में सुधार करने की आवश्यकता है। चाइल्ड राइट्स ऑर्गेनाइजेशन प्लान इंडिया द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में कांत ने कहा है की हम 7.5 फीसदी की रफ्तार से विकास कर रहे हैं और यदि हमारा लक्ष्य तीन दशक तक 10 फीसदी की गति से बढ़ने का है तो यह मानव विकास सूचकांक में सुधार के बिना संभव नहीं है।