पकिस्तान के F-16 जहाज मार गिराने पे भारत-पाक के बीच आरोप प्रत्यारोप जारी

पकिस्तान और भारत के बीच आरोप प्रत्यारोप काफी ज्यादा बढ़ गया है। पुलवामा में हुए घटना के बाद से ही पकिस्तान और भारत के बीच युद्ध का माहौल बन गया था। इसी बीच भारत ने पाकिस्तान के F-16 विमान को मार गिराये जाने का दवा क्या था। परन्तु इस बात को पकिस्तान ने नकार दिया। वही दूसरी ओर कल अमीरकी पत्रिका 'फॉरेन पालिसी' ने भी दावा किया है की पाकिस्तान का कोई F-16 लड़ाकू विमान लापता नहीं है। अमेरिकी रक्षा मंत्रालय के मुख्यालय पेंटागन ने शुक्रवार को कहा है कि उसे ऐसी किसी भी जांच के बारे में नहीं पता है, जो ये पता करने के लिए गठित की गई थी कि पाकिस्तान ने 27 फरवीर को अपना एफ-16 लड़ाकू विमान खोया या नहीं।

0
257 Views

पकिस्तान और भारत के बीच आरोप प्रत्यारोप काफी ज्यादा बढ़ गया है। पुलवामा में हुए घटना के बाद से ही पकिस्तान और भारत के बीच युद्ध का माहौल बन गया था। इसी बीच भारत ने पाकिस्तान के F-16 विमान को मार गिराये जाने का दवा क्या था। परन्तु इस बात को पकिस्तान ने नकार दिया। वही दूसरी ओर कल अमीरकी पत्रिका ‘फॉरेन पालिसी’  ने भी दावा किया है की पाकिस्तान का कोई F-16 लड़ाकू विमान लापता नहीं है। अमेरिकी रक्षा मंत्रालय के मुख्यालय पेंटागन ने शुक्रवार को कहा है कि उसे ऐसी किसी भी जांच के बारे में नहीं पता है, जो ये पता करने के लिए गठित की गई थी कि पाकिस्तान ने 27 फरवीर को अपना एफ-16 लड़ाकू विमान खोया या नहीं।

पेंटागन का ये बयान उस रिपोर्ट के बिलकुल विपरीत है, जिसमें बिना पहचान के रक्षा अधिकारियों के हवाले से कहा गया है कि पाकिस्तान ने अपना एफ-16 लड़ाकू विमान नहीं खोया है। गुरुवार को अमेरिका की पत्रिका ‘फॉरेन पॉलिसी’ ने ये खबर प्रकाशित की थी। पत्रिका में लिखा था कि पाकिस्तान के पास मौजूद एफ-16 विमानों की अमेरिका ने गिनती की है। इसमें यह पता चला है कि उनमें से एक भी विमान कम नहीं है। पत्रिका ने अमेरिकी रक्षा विभाग के दो वरिष्ठ अधिकारियों के हवाले से ये बात कही थी। इस रिपोर्ट में इन अधिकारियों की पहचान नहीं बताई गई।

Related Article:Modi greets Pakistan PM Imran Khan on National Day

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार अमेरिकी रक्षा विभाग के प्रवक्ता का कहना है, “विभाग ऐसी किसी भी जांच के बारे में नहीं जानता है। जब विभाग से सवाल पूछा गया कि इस रिपोर्ट को वह खारिज करेंगे या इसकी पुष्टि, तो उन्होंने खुद को इस रिपोर्ट से दूर रखा। विभाग का कहना है, “हम सरकार के दूसरी सरकार के साथ हुए समझौतों के बारे में सार्वजनिक तौर पर कुछ नहीं कह सकते।”

इस मामले पर भारतीय वायुसेना का कहना है, “नौशेरा सेक्टर में हवाई झड़प के दौरान भारतीय वायुसेना के मिग 21 बाइसन विमान ने एक एफ-16 को मार गिराया था।

वायुसेना ने कहा कि इस बात के उसके पास सबूत हैं। पत्रिका ने यह दावा तब किया है जब भारत 28 फरवरी को एफ-16 द्वारा दागी गई एम्राम मिसाइल के टुकड़े भी अमेरिका के सामने रख चुका है।

क्या हुआ था उस दिन?

26 फरवरी को बालाकोट एयर स्ट्राइक के अगले दिन 27 फरवरी की सुबह पाकिस्तान के कुछ जेट्स भारतीय सीमा में घुसे| इसपर जवाबी कार्रवाई करते हुए भारतीय वायुसेना ने उनका पीछा किया| दोनों पक्षों के बीच आसमान में झड़प हुई| सेना के सूत्रों ने दावा किया था कि उस दिन दो अलग-अलग जगहों पर आग देखी गई थी| दोनों जगहों के बीच करीब 8-10 किलोमीटर का फासला था| इनमें से एक आग भारत के क्रैश हुए मिग-21 बाइसन की थी|

Related Article:India ranks second in arms import

दूसरी आग पाकिस्तानी वायुसेना के उस F-16 विमान की ही थी, जिसे अभिनंदन ने अपने मिग-21 से निशाना बनाया था| इसके बाद ही अभिनंदन के मिग-21 को पाकिस्तानी मिसाइल ने टारगेट किया और उनका एयरक्राफ्ट क्रैश हो गया| वो जहां गिरे, वो जगह पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में थी| फिर पाकिस्तानी सेना ने उन्हें कैद कर लिया| तीन दिन बाद पाकिस्तान ने उन्हें सही-सलामत भारत भेजा था|

भारत ने पाकिस्तान का एफ-16 लड़ाकू विमान गिरा दिया था। जब अमेरिका ने पाकिस्तान को एफ-16 लड़ाकू विमान बेचा था, तो कहा था कि वह इसका इस्तेमाल किसी देश के खिलाफ नहीं करेगा जबकि उसने भारत के खिलाफ इसका इस्तेमाल किया।

अमेरिका ने एफ-16 बेचते वक्त पाकिस्तान से कहा था कि वह आतंक के खिलाफ और अपनी आत्मरक्षा के लिए ही इसका इस्तेमाल करेगा। वहीं अगर उसे किसी देश के खिलाफ भी इसका इस्तेमाल करना है तो पहले अमेरिका से इसकी मंजूरी लेनी होगी।

Summary
Article Name
Indo-Pak accusation reversal over F-16 ship hitting Pakistan
Description
पकिस्तान और भारत के बीच आरोप प्रत्यारोप काफी ज्यादा बढ़ गया है। पुलवामा में हुए घटना के बाद से ही पकिस्तान और भारत के बीच युद्ध का माहौल बन गया था। इसी बीच भारत ने पाकिस्तान के F-16 विमान को मार गिराये जाने का दवा क्या था। परन्तु इस बात को पकिस्तान ने नकार दिया। वही दूसरी ओर कल अमीरकी पत्रिका 'फॉरेन पालिसी' ने भी दावा किया है की पाकिस्तान का कोई F-16 लड़ाकू विमान लापता नहीं है। अमेरिकी रक्षा मंत्रालय के मुख्यालय पेंटागन ने शुक्रवार को कहा है कि उसे ऐसी किसी भी जांच के बारे में नहीं पता है, जो ये पता करने के लिए गठित की गई थी कि पाकिस्तान ने 27 फरवीर को अपना एफ-16 लड़ाकू विमान खोया या नहीं।
Author
Publisher Name
The Policy Times