#MeToo: गूगल ने यौन उत्पीड़न के आरोप में वरिष्ठ अधिकारी समेत 48 लोगों को किया बाहर

यौन उत्पीड़न के बढ़ते मामले को गंभीरता से लेते हुए इंटरनेट जगत की सबसे बड़ी कंपनी गूगल ने गुरुवार को अपने 48 कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया है|

0
#MeToo sexual harassment case; google fired 48 employees

यौन उत्पीड़न के बढ़ते मामले को गंभीरता से लेते हुए इंटरनेट जगत की सबसे बड़ी कंपनी गूगल ने गुरुवार को अपने 48 कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया है| इन कर्मचारियों में 13 वरिष्ठ मैनेजरों सहित कुल 48 कर्मचारी शामिल है और इन सभी पर पिछले दो साल के दौरान यौन उत्पीड़न करने के आरोप लगे है|

गूगल की ओर से बताया गया कि उन्होंने यह कदम अनुचित व्यवहार को रोकने के लिए उठाया है| गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई की ओर से यह बयान जारी किया गया| उन्होंने बताया कि कंपनी के एक वरिष्ठ कर्मचारी एंडी रुबिन पर दुर्व्यवहार के आरोप लगे थे| इसके बाद उन्होंने एंडी को 90 मिलियन डॉलर का एग्जिट पैकेज देते हुए उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया और उनकी सेवाएं समाप्त कर दी| एंडी मोबाइल दुनिया के सर्वाधिक लोकप्रिय ऑपरेटिंग सिस्टम एंड्राइड के निर्माताओं में से एक है, फिर भी गूगल की ओर से इतना बड़ा कदम उठाया गया|

आगे पिचाई ने बताया कि पिछले सालों में लोगों के अनुचित व्यवहार को रोकने के लिए हमने कई परिवर्तन किए हैं|  कार्यस्थल में एक बेहतर और सुरक्षित माहौल बनाने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं| यौन उत्पीड़न की हर शिकायत की हम जांच करते हैं और उचित कार्रवाई करते हैं| एंडी और बाकी लोगों की रिपोर्ट पढ़ने में भी मुश्किल थी| हालांकि उन्होंने लेख में किए गए दावों को सीधे संबोधित नहीं किया| एंडी रुबिन के प्रवक्ता सैम सिंगर ने एंडी पर लगे आरोपों को खारिज किया और कहा कि एंडी ने गूगल अपनी मर्जी से छोड़ा है| वह अपना खुद का उद्यम शुरू करने वाले हैं|

Related Articles:

ज्ञात हो सोशल मीडिया में यौन उत्पीड़न के खिलाफ छिड़ी जंग #MeToo का असर न केवल देशव्यापी है बल्कि इसका असर दुनियाभर में देखने को मिल रहा है| दरअसल इस आन्दोलन की शुरुआत टराना बर्क नाम की विदेशी महिला एक्टिविस्ट ने 2006 में शुरू किया था जिसका व्यापक असर साल 2017 से देखने को मिला| पिछले साल यानी अक्टूबर 2017 में हॉलीवुड की 20 से ज्यादा अभिनेत्रियों ने सबसे बड़े प्रोड्यूसर हार्वी विंस्टीन के खिलाफ सेक्सुअल हेरेस्मेंट का आरोप लगाया था| इसके बाद भारत में #MeToo  की शुरुआत बॉलीवुड से हुई जिसमें सबसे पहले तनुश्री दत्ता ने नाना पाटेकर पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है|

भारत में  #MeToo मूवमेंट के तहत कई बड़े नाम सामने आए हैं जिसमें जानेमाने प्रोड्यूसर विकास बहल, एक्टर आलोकनाथ, गायक कैलाश खेर, कॉमेडियन उत्सव चक्रवर्ती, तन्मय भट्ट, गुरसिमरन खम्बा, लेखक और कॉमेडियन वरुण ग्रोवर, लेखक चेतन भगत और केंद्रीय राज्य मंत्री एम जे अकबर  के नाम मुख्य रूप से शामिल हैं| हालाँकि, इन पर लगे आरोपों की पुष्टि अभी नहीं हो पाई है |

Summary
#MeToo: गूगल ने यौन उत्पीड़न के आरोप में वरिष्ठ अधिकारी समेत 48 लोगों को किया बाहर
Article Name
#MeToo: गूगल ने यौन उत्पीड़न के आरोप में वरिष्ठ अधिकारी समेत 48 लोगों को किया बाहर
Description
यौन उत्पीड़न के बढ़ते मामले को गंभीरता से लेते हुए इंटरनेट जगत की सबसे बड़ी कंपनी गूगल ने गुरुवार को अपने 48 कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया है|
Author
Publisher Name
The Policy Times
Publisher Logo