#MeToo: केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री एम जे अकबर ने प्रिया रमाणी पर दर्ज कराया मानहानि का केस

केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर ने दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ मानहानी का केस किया है। उन्होंने यह मुकदमा अपने वकीलों करंजवाला एंड कंपनी के माध्यम से किया है।

0
100 Views

केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर ने दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ मानहानी का केस किया है। उन्होंने यह मुकदमा अपने वकीलों करंजवाला एंड कंपनी के माध्यम से किया है।

रमानी ने अकबर पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए हैं। इससे पहले रविवार को विदेश से लौटने के बाद राज्यमंत्री एमजे अकबर ने अपने ऊपर लगेन यौन उत्पीड़ के आरोपों पर चुप्पी तोड़ी थी। उन्होंने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को गलत और मनगढ़ंत बताते हुए कानूनी कार्रवाई की बात की थी। उन्होंने कहा था कि उनके ऊपर आरोप द्वेष भावना से लगाए गए हैं। वे आधिकारिक दौरे पर देश से बाहर थे इसलिए पहले जवाब नहीं दे पाए।

उन्होंने रविवार को सवाल किया था कि आखिर यह मीटू का तूफान आम चुनाव के कुछ महीने पहले ही क्यों उठा? क्या ये कोई अजेंडा है? इन झूठे और आधारहीन आरोपों ने मेरी प्रतिष्ठा और सद्भावना को क्षति पहुंचाई है। झूठ के पैर नहीं होते और वह जहरीला भी नहीं होता जिसे आसानी से धोया जा सकता है। अकबर ने कहा कि कुछ तबको में बिना किसी सबूत के आरोप लगाने की बीमारी सी हो गई है।

वहीं, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी समेत कई नेताओं ने एमजे अकबर पर लगे आरोपों के बारे में बयान दिया था। अमित शाह ने कहा कि अकबर के खिलाफ लगे आरोपों की जांच होगी। यह देखना होगा कि आरोपों में कितनी सच्चाई है। उन्होंने कहा, ‘यह देखना जरूरी है कि आरोप सच हैं या गलत।’

Related Articles:

अकबर कई अखबार और पत्रिकाओं में संपादक रह चुके हैं। साल 2017 में भी एक महिला पत्रकार  ने बताया था कि उसके बॉस ने उसे होटल के कमरे में जॉब इंटरव्यू के लिए बुलाया था। प्रिया रमानी नाम की एक महिला ने ट्वीट कर बताया कि एमजे अकबर ने होटल रूम में इंटरव्यू के दौरान कई महिला पत्रकारों के साथ आपत्तिजनक हरकतें की हैं।

हार्वे विन्सिटन ऑफ द वर्ल्ड नाम से लिखे पोस्ट में कहा गया है कि अकबर ने होटल के एक कमरे में उनका इंटरव्यू लिया था। साथ ही उन्होंने शराब भी ऑफर की। अकबर ने महिला पत्रकार को बिस्तर पर उनके पास बैठने को भी कहा था। महिला का कहना है कि वह अश्लील फोन कॉल्स, मैसेज और असहज टिप्पणी करने में माहिर हैं। महिला ने लिखा है कि कई युवा महिलाएं उनकी गलत हरकतों की भुक्तभोगी हैं। लेख के प्रकाशन के समय आरोपी का नाम नहीं दिया गया था। अब बताया गया कि वे एमजे अकबर हैं।

प्रिया रमानी नाम की महिला ने ट्वीट में इस आरोप को प्रमाणित करते हुए कहा है कि वह भी उनकी गलत हरकत की शिकार हुईं। उसके साथ मुंबई के एक होटल में आपत्तिजनक हरकत की गई। वहीं शुमा राहा नाम की महिला ने ट्वीट में कहा, उसके साथ 1995 में ताज बंगाल होटल, कोलकाता में एमजे अकबर ने गलत हरकती की। उनकी गलत हरकत के विरोध में उसने नौकरी करने से इंकार कर दिया। इस ट्वीट के बाद कई अन्य महिला पत्रकारों ने भी आरोप का समर्थन किया।

Summary
#MeToo: केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री एम जे अकबर ने प्रिया रमाणी पर दर्ज कराया मानहानि का केस
Article Name
#MeToo: केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री एम जे अकबर ने प्रिया रमाणी पर दर्ज कराया मानहानि का केस
Description
केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर ने दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ मानहानी का केस किया है। उन्होंने यह मुकदमा अपने वकीलों करंजवाला एंड कंपनी के माध्यम से किया है।
Author
Publisher Name
The Policy Times
Publisher Logo