नोटबंदी के दो साल: राहुल गाँधी ने नोटबंदी को बताया ‘आपराधिक आर्थिक घोटाला’

नोटबंदी के दो साल पुरे होने पर कांग्रेस ने बीजेपी सरकार पर जमकर हमला बोला है| कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने गुरुवार को ट्वीट कर नरेंद्र मोदी की नेतृत्व वाली बीजेपी सरकार पर आरोप लगाया कि मोदी सरकार का यह कदम खुद से पैदा की गई त्रासदी और आत्मघाती हमला था जिससे प्रधानमंत्री के सूट-बूट वाले मित्रों ने अपने कालेधन को सफेद करने का काम किया|

0
4 Views

नोटबंदी के दो साल पुरे होने पर कांग्रेस ने बीजेपी सरकार पर जमकर हमला बोला है| कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने गुरुवार को ट्वीट कर नरेंद्र मोदी की नेतृत्व वाली बीजेपी सरकार पर आरोप लगाया कि मोदी सरकार का यह कदम खुद से पैदा की गई त्रासदी और आत्मघाती हमला था जिससे प्रधानमंत्री के सूटबूट वाले मित्रों ने अपने कालेधन को सफेद करने का काम किया|

उन्होंने कहा कि नोटबंदी सिर्फ एक बगैर सोचेसमझे मासूम इरादे से लागू की गई आर्थिक नीति नहीं बल्कि बहुत योजनाबद्ध तरीके से किया गया एक आपराधिक आर्थिक घोटाला था|

उन्होंने यह भी दावा किया कि नोटबंदी की पूरी सच्चाई अभी सामने नहीं आई है और देश की जनता पूरा सच जानने तक चैन से नहीं बैठेगी| गांधी ने एक बयान में कहा की भारत के इतिहास में 8 नवंबर की तारीख को हमेशा कलंक के तौर पर देखा जाएगा| 2 साल पहले आज के दिन प्रधानमंत्री मोदी ने देश पर नोटबंदी का कहर बरपाया था| उनकी एक घोषणा से भारत की 86 फीसदी मुद्रा चलन से बाहर हो गई जिससे हमारी अर्थव्यवस्था थम गई|

गरीबो का सबसे अधिक नुकसान

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने कहा कि नोटबंदी से सबसे ज्यादा प्रभावित गरीब लोगों को हुआ है| लोगों को अपनी गाढ़ी कमाई के पैसे को बदलवाने के लिए कई दिनों तक कतारों में खड़े रहना पड़ा जिसमें 100 से अधिक लोगों की कतारों में मौत हो गई| राहुल ने दावा किया कि मोदी सरकार ने नोटबंदी के समय जिन लक्ष्यों की बात की थी उनमें से एक भी लक्ष्य पूरा नहीं हो सका है और इसके उलट देश की जीडीपी में एक फीसदी की कमी आई है|वहीँ, दूसरी ओर देश के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भी नोटबंदी की दूसरी सालगिरह पर बीजेपी पर तीखा हमला बोला और आरोप लगाया कि नरेंद्र मोदी सरकार ने 2016 में त्रुटिपूर्ण ढंग से और सही तरीके से विचार किए बिना नोटबंदी का कदम उठाया था। आज उसके दो साल पूरे हो गए। भारतीय अर्थव्यवस्था और समाज के साथ की गई इस तबाही का असर अब सभी के सामने स्पष्ट है।

अपने ट्वीट पर उन्होंने कहा कि नोटबंदी से हर व्यक्ति प्रभावित हुआ फिर चाहे वह किसी भी उम्र का हो, किसी लैंगिक समूह का हो, किसी धर्म का हो या किसी पेशे का हो। हर किसी पर इसका असर पड़ा।

Related Articals:

देश में आयकर रिटर्न दाखिल करने वालों की संख्या बढ़ी : बीजेपी

नोटबंदी की दूसरी वर्षगाँठ पर बीजेपी ने भी कांग्रेस पर निशाना साधा और पार्टी से 10 सवाल किए है। बीजेपी ने आरोप लगाया कि जबजब भ्रष्टचारा के खिलाफ कोई मुहिम चलती है तो कांग्रेस विरोध क्यों करती है?

बीजेपी ने पूर्व वित्तमंत्री पी. चिदंबरम पर लगे कथित भ्रष्टाचार के मामलों की चल रही जांच के संदर्भ में कहा कि उन्हें नीतिगत मुद्दों पर बोलने का हक नहीं है। नोटबंदी के 2 साल पूरे होने पर जेटली ने एक फेसबुक पोस्ट लिखी। फेसबुक परनोटबंदी का प्रभावशीर्षक से लिखे एक लेख में कहा कि चलन से 500 और 1 हज़ार रुपए के नोट को हटाने से सरकार उन लोगों को का पता लगाने में कामयाब हुई जिन्होंने ज्ञात स्रोत से अधिक संपत्ति रखी थी। उन्होंने कहा कि नकदी जमा करने से संदिग्ध 17.42 लाख खाताधारकों का पता चला है।

इसके साथ ही उन्होंने आगे कहा कि देश में आयकर रिटर्न दाखिल करने वालों की संख्या 80 प्रतिशत उछलकर 6.86 करोड़ तक पहुंचना, डिजिटल लेनदेन में वृद्धि, गरीबों के हित के काम और बुनियादी ढांचे के विकास के लिए संसाधन की अधिक उपलब्धता नोटबंदी के कदम की मुख्य उपलब्धियां हैं|

Summary
Description
नोटबंदी के दो साल पुरे होने पर कांग्रेस ने बीजेपी सरकार पर जमकर हमला बोला है| कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने गुरुवार को ट्वीट कर नरेंद्र मोदी की नेतृत्व वाली बीजेपी सरकार पर आरोप लगाया कि मोदी सरकार का यह कदम खुद से पैदा की गई त्रासदी और आत्मघाती हमला था जिससे प्रधानमंत्री के सूट-बूट वाले मित्रों ने अपने कालेधन को सफेद करने का काम किया|
Author
Publisher Name
The Policy Times
Publisher Logo