पीएम मोदी ने भारत-आसियान ब्रेकफास्ट समिट में भाग लिया, आपसी रिश्ते मजबूत करने पर ज़ोर डाला

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दो दिवसीय सिंगापुर दौरे का आज दूसरा और आखिरी दिन है। प्रधानमंत्री मोदी आज सुबह नाश्ते के समय आसियान-भारत बैठक में शामिल होंगे। इसके बाद मोदी 13वें पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में भी भाग लेंगे। शिखर सम्मेलन में जिन मुद्दों पर चर्चा होगी, उसमें सूचना एचं संचार प्रौद्योगिकी, स्मार्ट शहर, समुद्री सहयोग तथा सीमा पर आतंकवाद शामिल हैं।

0
236 Views

मोदी ने कहा, हमें खुशी है कि आसियान के साथ संबंध मजबूत हैं और शांतिपूर्ण और समृद्ध ग्रह में योगदान दे रहे हैं।”

31 मई से दो जून के सिंगापुर के अपने आधिकारिक दौरे के दौरान मोदी ने अपने सिंगापुरी समकक्ष ली सीन लूंग के सामने प्रस्ताव रखा था कि भारत और सिंगापुर को एक संयुक्त हैकेथॉन का आयोजन करना चाहिए। ली ने इस प्रस्ताव का स्वागत किया था। सिंगापुर ने इस हैकेथॉन के आयोजन का काम नानयांग टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी (एनटीयू) और उसकी नवप्रवर्तन एवं उद्यम शाखाएनटीयूटिव को सौंपा था। भारत ने इसकी जिम्मेदारी ऑल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन (एआईसीटीई) को दी थी।

सिंगापुर में भारतीय उच्चायोग ने सिंगापुर के शिक्षा एवं विदेश मंत्रालय के साथ मिलकर इस कार्यक्रम को संभव बनाया। दोनों देशों से 20-20 टीमों ने इस प्रतियोगिता में हिस्सा लिया। इन टीमों में यूनिवर्सिटी एवं कॉलेज के छात्र शामिल थे जिन्हें देश भर से चुना गया। इन छात्रों ने युवाओं के नवप्रवर्तन क्षमताओं के उपयोग एवं प्रदर्शन के लिए इस हैकेथॉन में हिस्सा लिया। रणनीतिक भागीदारों के रूप में भारत और आसियान के बीच नजदीकी व्यापारिक और आर्थिक संबंध हैं।

2017-18 में भारतआसियान व्यापार 81.33 अरब डॉलर रहा| यह भारत के कुल व्यापार का 10.58 प्रतिशत है। भारत के कुल निर्यात में आसियान देशों का हिस्सा 11.28 प्रतिशत है। 2017 में भारत और आसियान ने अपने रिश्तों की 25वीं सालगिरह मनाई थी। भारतआसियान बैठक इस साल जनवरी में हुई थी और गणतंत्र दिवस का मौके पर आसियान देशों के प्रमुख भारत के खास मेहमान बने थे।

Summary
Description
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दो दिवसीय सिंगापुर दौरे का आज दूसरा और आखिरी दिन है। प्रधानमंत्री मोदी आज सुबह नाश्ते के समय आसियान-भारत बैठक में शामिल होंगे। इसके बाद मोदी 13वें पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में भी भाग लेंगे। शिखर सम्मेलन में जिन मुद्दों पर चर्चा होगी, उसमें सूचना एचं संचार प्रौद्योगिकी, स्मार्ट शहर, समुद्री सहयोग तथा सीमा पर आतंकवाद शामिल हैं।
Author
Publisher Name
The Policy Times
Publisher Logo