कोरोना वायरस के कारण स्कूल बंद होने पर ऑनलाइन शिक्षा से राहत

कोरोना वायरस 100 से अधिक देशों में फैलने के साथ, कई सरकारें एहतियाती उपाय के रूप में शैक्षणिक संस्थानों को बंद कर रही हैं, जिसके परिणामस्वरूप पढ़ाई बाधित हो रही  है। ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों में भी स्कूलों और कॉलेजों में  सामूहिक अवकाश है। अमेरिका में हार्वर्ड और वाशिंगटन विश्वविद्यालय ने पहले ही यह रास्ता निकाल लिया है

0

कोरोना वायरस 100 से अधिक देशों में फैलने के साथ, कई सरकारें एहतियाती उपाय के रूप में शैक्षणिक संस्थानों को बंद कर रही हैं, जिसके परिणामस्वरूप पढ़ाई बाधित हो रही  है। ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों में भी स्कूलों और कॉलेजों में  सामूहिक अवकाश है। अमेरिका में हार्वर्ड और वाशिंगटन विश्वविद्यालय ने पहले ही यह रास्ता निकाल लिया है। भारत में भी, कई राज्य सरकारों ने बीमारी के प्रसार को रोकने के लिए 14 दिनों की अवधि के लिए स्कूलों को बंद कर दिया है।

कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण महाराष्ट्र सरकार के  सिनेमाघरों, जिम और कई प्राथमिक स्कूलों को बंद करने के फैसले के मद्देनजर  ऐंपरसैंड ग्रुप  के चेयरमैन श्री रूस्तम केरावला, जो विबयोर  हाई स्कूल चलाते हैं, ने पाठ्यक्रम के हिस्से के रूप में ऑनलाइन शिक्षा शामिल करने पर जोर दिया है। यूएसए और चीन में  सीमित अवधि के लिए  ऑनलाइन निर्देश दिए जा रहे हैं , या स्कूलों और कॉलेजों में सेमेस्टर के माध्यम से ।

श्री केरावला ने भारत के लिए भी ऐसे उपायों की वकालत की है। इसके तहत पहला कदम एक टास्क फोर्स तैयार करना होगा जिसमें स्कूलों और कॉलेजों के लिए ऑनलाइन शिक्षा की प्रक्रिया को तेज करने के लिए एक अग्रणी नीति बनाने के लिए अग्रणी एडुटेक कंपनियां, स्कूल प्रबंधन सेवा प्रदाता, उद्यमी और सरकारी एजेंसियां शामिल होंगी।

श्री केरावला ने कहा कि एडुकटेक कंपनियों को सार्वजनिक-निजी भागीदारी में ऑनलाइन तकनीक  को कार्यान्वित करने के लिए सरकार के साथ सहयोग करने के लिए आमंत्रित किया जाना चाहिए। कोरोनावायरस महामारी  को देखते हुए कई राज्य सरकारों ने शैक्षणिक संस्थानों को पूर्ण रूप से बंद करने का आह्वान किया है। इस स्थिति में  केंद्र सरकार को ऑनलाइन शिक्षा की प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए एक नीति तैयार करने के लिए एजुकटेक कंपनियों, स्कूल प्रबंधन, सेवा प्रदाताओं, शिक्षाविदों, उद्यमी और राज्य के अधिकारियों को मिलाकर  एक टास्क फोर्स तैयार करना चाहिए।

Summary
Article Name
कोरोना वायरस के कारण स्कूल बंद होने पर ऑनलाइन शिक्षा से राहत
Description
कोरोना वायरस 100 से अधिक देशों में फैलने के साथ, कई सरकारें एहतियाती उपाय के रूप में शैक्षणिक संस्थानों को बंद कर रही हैं, जिसके परिणामस्वरूप पढ़ाई बाधित हो रही  है। ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों में भी स्कूलों और कॉलेजों में  सामूहिक अवकाश है। अमेरिका में हार्वर्ड और वाशिंगटन विश्वविद्यालय ने पहले ही यह रास्ता निकाल लिया है